द्रौपदी मुर्मू एनडीए कि राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार, जानिए कौन हैं द्रौपदी मुर्मू

0
0

एक और जहां महाराष्ट्र में राजनीतिक उठापटक का खेल जारी है वहीं दूसरी ओर देश में राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार और उसके चुनावों को लेकर भी हलचल बनी हुई है। एक और जहां कल खबर आई थी कि विपक्ष राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार को तलाशने लगा है और उनकी तलाश यशवंत सिन्हा पर जाकर खत्म हुई है, वही दूसरी ऒर कल खबर सामने आई कि एनडीए ने भी अपनी मीटिंग के बाद राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार का नाम घोषित कर दिया है। 

एनडीए ने अपने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के तौर पर द्रौपदी मुर्मू का नाम सामने दिया है। 

जानिए कौन हैं द्रौपदी मुर्मू 

उड़ीसा की द्रौपदी मुर्मू झारखंड की राज्यपाल के तौर पर अपनी सफल सेवाएं दे चुकी हैं। एनडीए की तरफ से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का जीतना लगभग तय है या फिर हम यूं कह सकते हैं कि भारत देश की दूसरी महिला राष्ट्रपति तथा देश की पहली आदिवासी राष्ट्रपति के तौर पर द्रोपति मुर्मू चुनकर आने वाली हैं। 

द्रौपदी मुर्मू का जन्म 20 जून 1958 को ओडिशा के मयूरभंज जिले के बैदापोसी गांव में हुआ था। उनके पिता का नाम बिरंची नारायण टुडू है। द्रौपदी मुर्मू आदिवासी संथाल परिवार से ताल्लुक रखती हैं। उनका विवाह श्याम चरण मुर्मू से हुआ था। मुर्मू दंपति के दो बेटे और एक बेटी हुई। लेकिन शादी के कुछ समय बाद ही उन्होंने पति और अपने दोनों बेटों को खो दिया। घर चलाने और बेटी को पढ़ाने के लिए मुर्मू ने एक टीचर के रूप में अपने करियर की शुरुआत की और फिर उन्होंने ओडिशा के सिंचाई विभाग में एक कनिष्ठ सहायक यानी क्लर्क के पद भी नौकरी की। 

जरूर पढ़े:  क्यों डूब रहे हैं तट पे बसे इलाके?

कुलमिलाकर देखा जाय तो द्रौपदी मुर्मू का जीवन उतार चढाव से भरा जीवन रहा। 

द्रौपदी मुर्मू 2015 से लेकर 2021 तक झारखंड राज्यपाल रही है। गौरतलब है कि देश में राष्ट्रपति चुनाव 18 जुलाई को आयोजित होंगे तथा वोटो की गिनती और रिजल्ट की घोषणा 21 जुलाई को की जाएगी।

द्रौपदी मुर्मू का जीतना तय इसलिए माना जा रहा है क्योंकि अभी केंद्र में बीजेपी की सरकार है और द्रोपति मुर्मू का नाम सामने आने से लेकर अब तक कई बड़े नेता और पार्टियां उन्हें अपना समर्थन दे चुकी हैं। द्रौपदी मुर्मू के समर्थन में नीतीश कुमार, किरेन रिजिजू जैसे लोगों का नाम सामने आया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here