त्योहारों का महत्व के बारे में हिंदी में निबंध

मनुष्य जीवन कठिनाइयों से भरा पड़ा है। इसमें मनुष्य की व्यस्तता इतनी बढ़ चुकी है कि लोगों के पास अपनी खुशी वो अपने परिवार के लिए समय ही नहीं है।लोग रोजाना facebook, whatsapp पर तो मिलते ही है परंतु आपसी मन मुटाव के साथ ऐसे में तयोहार ही एक ऐसा जरिया है जो कि मानव जीवन को हर्ष व उल्लास से भर देता है। तथा उनके जीवन मे मानो रंग भर देता है।लोग एक दूसरे से मिलते हैं फिर से पूरा परिवार साथ होता है। इसलिए त्योहारों का हमारे जीवन में एक बहुत बड़ा महत्व है।त्यौहार सब के जीवन को खुशी व उत्साह से भर देता है।अलग-अलग त्योहारों को मनाकर हम भारतवासी राष्ट्रीय एकता को भी बढ़ावा देते हैं। परंपरागत त्यौहार का महत्व प्राचीन काल से ही है।हमारे हर त्यौहार को मनाने के पीछे कोई ना कोई वजह होती है तथा हर त्यौहार से हमें कुछ न कुछ सीख अवश्य मिलती है। यह त्यौहार हमारी सांस्कृतिक धरोहर है। भारत में हम हर त्यौहार को बड़े धूमधाम से मनाते हैं। तथा हर धर्म व जाति के त्यौहार को हर कोई अपना समझकर मनाता है तथा हर तयोहार को एक ही नजर से देख कर उसे भी बढ़ावा दिया जाता है।इसलिए तो भारत देश को त्योहारों का देश भी कहा जाता है।भारत में त्यौहार को सिर्फ त्यौहार की तरह मनाया जाता है। फिर चाहे वह बंगाली की दुर्गा पूजा इसाईयो की क्रिसमस या बिहारियों का छठी पूजा हो हम हर त्यौहार को बड़े खुशी हर्ष के साथ विधि विधान और परंपरागत अनुसार सारे समाज के साथ मनाते हैं।

यह भी जरूर पढ़ें:  कक्षा-2 के लिए निबंध हिंदी में कैसे लिखें?

निम्नलिखित कुछ ऐसे उत्सव है जिनका महत्व भारत में काफी ज्यादा है तथा हर एक त्यौहार के पीछे कुछ ना कुछ सीख छुपी है। आइए साथ मिलकर उन त्यौहारो के बारे में जानते हैं।

1) दिवाली- यह मुख्यता हिंदुओं का त्यौहार है। इस दिन राजा श्री राम ने रावण का वध कर अयोध्या में वापसी की थी। तथा अपने माता के वचन को रखनी के लिए 14 वर्ष का वनवास कांट यह अयोध्या लौटे थे। इस खुशी में अयोध्या वासी दीप जलाकर इस दिन को पावन बनाए थे ।इसलिए हर भारतवासी आज भी उस प्रतीक को रखने के लिए इस त्यौहार को मनाते हैं। तथा घर-घर में दीप जलाते हैं।ऐसा लगता है मानो जैसे पूरा विश्व जगमग रहा हो।

2) दुर्गा पूजा- यह भी हिंदूओ का त्योहार है। यह बुराई पर अच्छाई के प्रतीक के लिए मनाया जाता है। यह नौ दिनो और नो रातों का त्योहार है। गुजरात में इसे नवरात्रि कहते हैं तथा इसे भारतवासी मिलकर बड़े हर्ष और उल्लास से बनाते हैं।

यह भी जरूर पढ़ें:  शिक्षक दिवस पर निबंध

3) रक्षाबंधन-यह त्यौहार भाई बहन के द्वारा मनाए जाने वाला सबसे प्रिय त्योहार है। यह त्यौहार हर उस भाई को अपनी बहन की जीवन भर रक्षा करने की प्रतिज्ञा का एहसास दिलाता है।

4) ईद- यह मुसलमानों का त्यौहार है परंतु हर कोई इस त्योहार को साथ मिलकर बड़ी खुशी से मनाते हैं। यह त्यौहार भाईचारे का प्रतीक है। तथा यह त्यौहार भारत में हिंदू मुस्लिम सब मिलकर मनाते हैं।

5) क्रिसमस- ईसाइयों के द्वारा मनाए जाने वाला,यह त्यौहार बहुत ही प्रसिद्ध है। जीजस क्रिसट के याद मे यह त्यौहार मनाया जाता है। इस दिन हर कोई चर्च जाकर उनकी याद में एक मोमबत्ती जरूर जलाता हैं।

6) होली- होली यानी रंगों का त्योहार। इसके पहले दिन होलिका दहन की जाती है। जिसमें पुरानी यादों तथा बुराइयों को जलाकर एक नया जीवन शुरु करने की सीख मिलती है।तथा उसके अगले दिन हर किसी को रंग लगाकर बड़ों के आशीर्वाद लेकर एक नये जीवन की शुरुआत की जाती है।

7) गणेश उत्सव- यह त्यौहार मराठीयो के द्वारा मनाए जाने वाली सबसे खास त्योहारों में से एक है। इस दिन गणपति जी की मूर्ति की पूजा की जाती है तथा हर कोई उन्हें भोग लगाता है।

यह भी जरूर पढ़ें:  क्रिकेट पर शुद्ध हिंदी में निबंध | Cricket Par Hindi Mein Essay

त्यौहारो को मनाने से या फिर त्योहारों के जीवन में होने से हमारे घर परिवार आस पड़ोस मित्र रिश्तेदारों के बीच एक अच्छा माहौल तयार हो जाता है। तथा हमारे रिश्ते पहले से ज्यादा मजबूत होने लगते हैं।

हर त्यौहार के साथ हमें एक दूसरे के प्रति श्रद्धा के भाव व प्रेम को महसूस करने को मिलता है। यह सारे त्यौहारो का निर्माण मनुष्य ने ही किया है। हर त्यौहार किसी ना किसी अच्छे घटना को दर्शाने के लिए है।तथा उस घटना के प्रतिक को आज भी बनाए रखने के लिए हम हर एक त्यौहार को मनाते हैं।

Leave a Comment