SHEROES HANGOUT – पहला कैफे जिसको Acid Attack Survivor चलाती है।

सीमा कक्षा 10 की छात्र थी जब उनके भाई के मित्र ने उनके ऊपर एसिड फेंका। इस एक छोटे से प्रतिस्पर्धा के कारण उनकी जीवनशैली ने एक नया मोड़ ले लिया। शुरुआत में सीमा के माता-पिता ने उनका काफी सहयोग किया पर कुछ समय उपरांत वह भी उन्हें घर के अंदर रखने को मजबूर हो गए। सन 2018 में सीमा को शिरोज नामक एक लखनऊ स्थित कैफे के बारे में पता चला।

शीरोज कैफे एक नारी सशक्तिकरण के आधार पर स्थापित एक कैफे की चेन है। इसी चैन का एक कैफे का सेक्टर 21a स्थित नोएडा स्टेडियम के गेट नंबर 4 पर बने किओस्क में इस खास कैफे का संचालन किया जाएगा। नोएडा बेस्ड एक छांव फाउंडेशन नामक एनजीओ इस चैन को समर्थन देती है। इनका पहला कैफे लखनऊ में स्थापित किया गया था।

 छांव फाउंडेशन द्वारा स्थापित नोएडा का एक ऐसे ऐसे पीड़ित महिलाओं का सहयोग करने हेतु स्थापित किया गया है। इसी कारण यह प्राधिकरण की ओर से सहयोग करते हुए बिना फायदा बिना नुकसान के सिद्धांत पर आधारित है। इस प्रकार से छांव फाउंडेशन समाज में बहिष्कार कई करी गई महिलाओं की सहायता करता हैं।

Leave a Comment